Passport aur Visa में क्या अंतर है?

आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे कि Passport aur Visa में क्या फर्क होता है क्योंकि जब भी अपने देश से बाहर ट्रैवल करने की बात आती है तो 2 terms सबसे पहले दिमाग में क्लिक होते है। Passport aur Visa.

आप में से कई लोगों के पास पासपोर्ट जरूर होगा और शायद वीजा भी हो लेकिन बहुत से लोग ऐसे भी होंगे जिन्हें Passport aur Visa के बीच का डिफरेंस समझ में नहीं आता होगा।

ऐसे में आज की इस पोस्ट में हम आपको Passport aur Visa के बारे में इन्फॉर्मेशन देने वाले हैं जिसे जानने के बाद Passport aur Visa में आपका कन्फ्यूजन दूर हो जाएगा।

इसलिए इस पोस्ट अंत तक जरूर पढ़ें। तो चलिए शुरू करते हैं और Passport aur Visa के बारे में Detail में जानते हैं।

चलिए सबसे पहले जानते है कि passport Kya hai?

Passport Kya hai?

Passport aur Visa

पासपोर्ट ऐसा ट्रैवल डॉक्युमेंट होता है जो किसी देश की गवर्मेंट अपने नागरिकों को ईशू करती है। ये डॉक्यूमेंट international ट्रैवल के पर्पस से उस फोल्डर की आइडेंटिटी और Nationality को वेरिफाई करता है।

Adults के अलावा चिल्ड्रन और बेबीज के लिए भी पासपोर्ट होना जरूरी होता है।

पासपोर्ट स्मॉल बुकलेट होता है जिसमें:-

  1. Person का नेम
  2. डेट ऑफ बर्थ
  3. प्लेस ऑफ बर्थ
  4. जेंडर
  5. फोटो और सिग्नेचर
  6. पासपोर्ट डेट ऑफ issue
  7. डेट ऑफ एक्सपायरी
  8. और पासपोर्ट के नंबर जैसी सारी डीटेल्स मेंशन होती हैं।

पासपोर्ट जारी करने से पहले अप्लीकेंट के बारे में बारीकी से जांच की जाती है और उसके बाद ही पासपोर्ट जारी किया जाता है। इसलिए दूसरे देश जाने पर पासपोर्ट सबसे इम्पॉर्टेंट आईडी के रूप में एक्सेप्ट किया जाता है।

चलिए अब जानते है कि Visa Kya Hota है?

Visa Kya Hota Hai?

वीजा एक ऑफिशल डॉक्युमेंट होता है जिसके जरिए आप फॉरेन कंट्री में लीगली एंट्र हो सकते हैं। अगर आप अमेरिका घूमने जाना चाहते हैं तो आपको वीजा अमेरिकन गोवेर्मेंट से मिलेगा। इसमें इंडियन गवर्मेंट का कोई भी रोल नहीं होगा।

वीजा usally पासपोर्ट पर Stamp किया जाता है या फिर इसे पासपोर्ट पर चिपकाया जाता है वीजा बहुत तरह के होते हैं जो वीजा होल्डर के Post Country में differenet Rights से जुड़े होते हैं।

यानी आप किस पर्पस से किस देश में जा रहे हैं उसके अकॉर्डिंग आपको वीजा ईशू होगा।

यानी हम यह कह सकते हैं कि पासपोर्ट हमारा पहचान पत्र होगा जबकि वीजा वो अधिकार है जिसे लेने के बाद ही आप उस देश में घूम सकते हैं जिसने वो जारी किया है।

तो पासपोर्ट और वीजा के बारे में ये बेसिक info और differences जान लेने के बाद अब जानते हैं कि पासपोर्ट कितने तरह के होते हैं।

Passport Kitne Tarah Ke Hote Hai?

मोस्टली पासपोर्ट तीन तरह के होते हैं:-

  • Oridinary Passpost
  • Official Passport
  • Diplomatic Passport

1. ऑर्डिनरी पासपोर्ट यानी की साधारण पासपोर्ट जो गहरे नीले रंग का होता है और इसे ऑर्डिनरी ट्रैवल और बिजनेस ट्रिप्स के लिए ईशू किया जाता है।

2. ऑफिशल पासपोर्ट:- ये वाइट कवर पासपोर्ट होता है और इसे गवर्मेंट ऑफिसर्स को इशू किया जाता है जो दूसरे देश में इंडियन गवर्मेंट को रिप्रेजेंट करते हैं।

3. डिप्लोमैटिक पासपोर्ट:- ये पासपोर्ट मरून रंग का होता है और ये केवल Indian diplomats, diplomatic couriers or top ranking government officials को ईशू किया जाता है।

पासपोर्ट कितना इम्पॉर्टेंट होता है और कितने तरह का होता है ये तो आप जान ही गए हैं लेकिन आपको ये भी पता होना चाहिए कि अगर कभी abroad में ट्रैवल करने गए किसी इंडियन का पासपोर्ट खो जाए तो क्या होगा वो Indian citizen वापस इंडिया कैसे आएगा। ऐसे बहुत सारे सवाल अब हम जानेंगे।

अगर किसी Indian का Passport खो जाए तो क्या होगा ?

तो इस सवाल का जवाब ये है कि उस देश में मौजूद इंडियन एम्बेसी उस इंडियन सिटिजन को एमरजेंसी सर्टिफिकेट ग्रांट कर देगी जिसके जरिए वो पर्सन इंडिया वापस आ सकता है। इस इमर्जेंसी सर्टिफिकेट को एमरजेंसी पासपोर्ट या टेंपररी पासपोर्ट भी कहते हैं।

चलिए अब जानते है कि Visa कितनी तरह के होते है?

Visa कितनी तरह के होते है?

वीजा बहुत तरह के होते हैं जो वीजा होल्डर की रिक्वायरमेंट के अकॉर्डिंग ईशू किए जाते हैं जैसे वर्क वीजा ये वीजा ऐसे पर्सन को दिया जाता है जो होस्ट कंट्री में जॉब करना चाहता हो या बिजनेस एक्टिविटीज में इंगेज हो।

वर्क वीजा भी बहुत तरह के होते हैं जो वर्क के नेचर और होस्ट कंट्री में करने की Duration के अकॉर्डिंग होते हैं।

ट्रैवल वीजा की बात करें तो इस तरह का वीजा केवल touristic पर्पस के लिए ही दिया जाता है। इस वीजा के जरिए होल्डर उस कंट्री में किसी भी तरह की बिजनेस एक्टिविटीज या वर्क नहीं कर सकता है।

Travel Visa भी दो तरह के होते हैं इमिग्रेंट और नॉन इमिग्रेंट वीजा।

इमिग्रेंट वीजा के जरिए वीजा होल्डर होस्ट कंट्री में Permanantly रह सकता है जबकि नॉन इमिग्रेंट वीजा के जरिए होस्ट कंट्री में टेम्पररी बेसिस पर ही एंट्री ली जा सकती है।

Working holiday visa की बात करे तो इस तरह के वीजा की मदद से वीजा होल्डर उस कंट्री में टेंपररी एम्प्लॉयमेंट भी ले सकता है जहां वो घूमने गया है।

हर कंट्री इस तरह का वीजा ऑफर नहीं करती है लेकिन ऑस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, कैनेडा, बेल्जियम, जापान और यूके जैसे देशों में इस तरह का वीजा ऑफर किया जाता है।

बिजनेस वीजा की बात करें तो बिजनेस वीजा की हेल्प से आप होस्ट कंट्री में बिजनेस कॉन्फ्रेंस अटेंड करना या किसी कंपनी के साथ बिजनेस कंट्री जैसी ऐक्टिविटीज कर सकते हैं।

इसके लिए आपको कंट्री के लेबर मार्केट को जॉइन करने की जरूरत नहीं होगी। विसिटोर्स को ये शो करना होगा कि वो पोस्ट कंट्री से इनकम रिसीव नहीं कर रहा है।

अब बात करते है स्पोंसर visa की। जब लाइफ पार्टनर सेम कंट्री से ना हो तो इस वीजा के जरिए वो एक दूसरे से मिलने जा सकते है।

अगला Transit visa:- ये शॉर्ट टर्म वीजा होता है ये किसी पर्सन को तभी इशू किया जाता है जब वो किसी कंट्री में ट्रेवल तो कर रहा होता है लेकिन वहां पर रुकता नहीं है यानि कि रहता नहीं है।

ये वीजा usally पाँच या उससे कम दिनों के लिए वैलिड होता है। इसकी ड्यूरेशन उस कंट्री पर डिपेंड करती है।

स्टूडेंट वीजा की बात करें तो ये एक तरह का नॉन इमिग्रेंट वीजा होता है जो वीजा होल्डर को होस्ट कंट्री में स्टडी के लिए ईशू किया जाता है।

अगला है रिफ्यूजी या असलम वीजा। इस तरह का वीजा ऐसे लोगों को ईशू किया जाता है जिनकी लाइफ नेचुरल डिजास्टर वॉर और ऐसी अदर सिचुएशंस की वजह से खतरे में पड़ गई हो।

तो पासपोर्ट और वीजा के टाइप जानने के बाद आपको E पासपोर्ट और E वीजा के बारे में भी पता होना चाहिए।

ई पासपोर्ट यानी इलेक्ट्रॉनिक पासपोर्ट एक रेगुलर पासपोर्ट बुकलेट होता है जिसमें इलेक्ट्रॉनिक चिप लगी रहती है।

इस चिप में पासपोर्ट होल्डर की इन्फॉर्मेशन होती है और ये पासपोर्ट फ्रॉड के अगेंस्ट एक्स्ट्रा लेयर सिक्योरिटी प्रोवाइड कराता है।

ई वीजा यानी इलेक्ट्रॉनिक वीजा जो एक डिजिटल वीजा होता है जो डेटाबेस में स्टोर रहता है। ये वीजा होल्डर के पासपोर्ट नंबर से लिंक रहता है।

इन्हें भी पढ़ें:-

Conclusion – Passport aur Visa

तो दोस्तों में उम्मीद करता हूँ कि इस पूरी पोस्ट से आपको passport aur Visa के बीच में अंतर और Passport aur Visa कितनी तरह के होते है सब कुछ पता चल गया होगा।

अगर आपके Mind में अभी भी कोई Questions है तो आप निचे Comment box में कमेंट करके मुझसे पूछ सकते है मैं आपके सवाल का जल्द से जल्द reply देने की कोशिश करूँगा।

धन्यवाद।

You may also like...